Tuesday, 25 June 2024
Trending
बिज़नेस

भारत के बाहर Tata Group की कंपनी Agratas की पहली गीगाफैक्ट्री Bridgewater, England में स्थापित की जाएगी

भारत के बाहर Tata Group की कंपनी Agratas की पहली गीगाफैक्ट्री Bridgewater, England में स्थापित की जाएगी
भारत के बाहर Tata Group की कंपनी Agratas की पहली गीगाफैक्ट्री Bridgewater, England में स्थापित की जाएगी
भारत के बाहर Tata Group की कंपनी Agratas की पहली गीगाफैक्ट्री Bridgewater, England में स्थापित की जाएगी

अपनी 2023 की घोषणा से तेजी से आगे बढ़ते हुए, टाटा समूह की ऑटोमोटिव महत्वाकांक्षाएं साकार हो गई हैं। फरवरी 2024 में अपनी घोषणा के साथ, टाटा ने भारत के बाहर अपनी उद्घाटन गीगाफैक्ट्री के लिए ब्रिजवाटर, इंग्लैंड को लोकेशन के चुना हैं ।यह त्वरित अहसास इनोवेशन के प्रति TATA की अटूट कमिटमेंट को दर्शाता है और ऑटोमोटिव विकास में एक महत्वपूर्ण क्षण का प्रतीक है।

Tata Sons United Kingdom (UK) में 40GW बैटरी सेल गीगाफैक्ट्री का निर्माण करेगी। £4 बिलियन से अधिक के इन्वेस्टमेंट , UK और Europe में ग्राहकों के लिए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और रिन्यूएबल एनर्जी स्टोरेज का समाधान करेगा। 2026 से supply शुरू होने के साथ JLR (Jaguar Land Rover) और Tata Motors प्रमुख ग्राहक होंगे । बैटरी का उत्पादन 2026 में शुरू होगा

न्यूज़ एजेंसी AFP. के मुताबिक, £4 बिलियन ($5 बिलियन) का प्लांट दक्षिण पश्चिम इंग्लैंड के समरसेट में स्थित होगा। Tata Group के ग्लोबल बैटरी बिज़नेस , Agratas ने कन्फर्म किया हैं की क 40 GWh फैक्ट्री Bridgewater के Gravity Smart Campus में बनाई जाएगी।

“आज, मुझे यह घोषणा करते हुए खुशी हो रही है कि Tata Group UK में Europe की सबसे बड़ी बैटरी सेल मैन्युफैक्चरिंग फैसिलिटीज स्थापित करेगा। हमारा मल्टी -बिलियन पाउंड का इन्वेस्टमेंट देश में cutting-edge technology लाएगा, जिससे ऑटोमोटिव क्षेत्र को इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में बदलने में मदद मिलेगी, जो हमारे अपने व्यवसाय, Jaguar Land Rover, द्वारा समर्थित है,” N Chandrasekaran ने पिछली घोषणा के दौरान कहा था।

Tata Group के बारे में

1868 में जमशेदजी टाटा द्वारा स्थापित, टाटा समूह एक ग्लोबल एंटरप्राइज है, जिसका मुख्यालय भारत में है, जिसमें दस कार्यक्षेत्रों में 30 कंपनियां शामिल हैं।

Tata Sons मेजर इन्वेस्टमेंट होल्डिंग कंपनी और टाटा कंपनियों की प्रमोटर है। Tata Sons की equity share पूंजी का 66% हिस्सा philanthropic trusts के पास है, जो शिक्षा, स्वास्थ्य, आजीविका जनरेशन और कला और संस्कृति का समर्थन करते हैं।

2021-22 में, Tata कंपनियों का राजस्व कुल मिलाकर $128 बिलियन (INR 9.6 ट्रिलियन) था। ये कंपनियां सामूहिक रूप से 935,000 से अधिक लोगों को रोजगार देती हैं।

प्रत्येक Tata कंपनी या एंटरप्राइज अपने स्वयं के board of directors के गाइडेंस और supervision के तहत स्वतंत्र रूप से काम करता है। 31 मार्च, 2022 तक 311 बिलियन डॉलर (INR 23.6 ट्रिलियन) के combined market capitalization के साथ 29 publicly listed Tata enterprises हैं।

Become a Trendsetter With DailyLiveKhabar

Newsletter

Streamline your news consumption with Dailylivekhabar's Daily Digest, your go-to source for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *