Wednesday, 24 July 2024
Trending
ट्रावेल

ट्रैकिंग, मैडिटेशन, वाइल्ड लाइफ और भीड़ से दूर अरुणाचल प्रदेश में घूमने लायक जगह जहां आप घूम सकते हैं

arunachali

क्या आपको शहर की भीड़ से दूर कोई शांत जगह है जहाँ आप ट्रैकिंग, ध्यान और वन्य जीवन का आनंद ले सकते हैं और हर मौसम में आप जा सकते हैं तो आपको अरुणाचल प्रदेश की इस जगह पर घूमना जरूर चाहिए। जहाँ आपको ट्रैकिंग, मठ, बहुत सुंदर घाटी, जहाँ आपको वैली की सुंदरता और आर्किड फूलो से भरे गार्डन, म्यूजियम और गाँव का जीवन सब देखने लो मिले। तो ये सब जानने के लिए हमारा आर्टिकल पढ़े।

अगर आप अरुणाचल घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आपको निचे दिए गए जगहों के साथ तवान्ग और जीरो वैली जरूर घूमने जाना चाहिए।

1. नमदाफा राष्ट्रीय उद्यान


नामधाफा राष्ट्रीय उद्यान पूर्वी भारत का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है। यहां आपको हाथी, बाघ, गैंडा और हॉर्नबिल जैसे विभिन्न वन्यजीव मिलेंगे। यहां खूब वन्य जीवन देखने को मिलता है। जैसे, हिमालयन काला भालू। यह राष्ट्रीय उद्यान हिमालयी काले भालू का घर है। ये भालू शक्तिशाली और गुस्सैल होते हैं।

इसलिए टूरिस्ट को पहले ही बता दिया जाता है कि अगर वे इनके सामने आएं तो हस्तक्षेप न करें। यहां आपको बहुत रंगबिरंगी पक्षी भी देखने को मिलता है जो बेहद खूबसूरत लगते है। इस पक्षी के पंख बहुत रंगीन होते हैं।

नामधाफा पहाड़ी मुर्गों का भी घर है, जो मुर्गे की एक अनोखी प्रजाति है जिसे इस राष्ट्रीय उद्यान में संरक्षित किया गया है। आप इस राष्ट्रीय उद्यान में जंगली सफारी, ट्रैकिंग और प्रकृति की सैर का आनंद ले सकते हैं।

2. बोमडिला


बोमडिला अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम करेंग जिले का एक छोटा सा शहर है। यह जगह अपनी खूबसूरती और बौद्ध मठों के लिए मशहूर है। यहां एक प्रमुख बौद्ध मठ है जिसे Bomdila Buddhist Monastery कहा जाता है। यहां मूर्तियां और पीठ देखने को मिलती हैं। यहां ट्रैकिंग का मजा लिया जा सकता है, यहां का बोमडिला में Viyu नाम का पहाड़ भी काफी मशहूर है। यह एक खूबसूरत पिकनिक स्पॉट है जहां आप ट्रैकिंग का भी आनंद ले सकते हैं। यह स्थान प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है इसलिए यहां आने वाले सभी पर्यटकों को शांति और शीतलता का अनुभव जरूर होगा।

Bomdila War Memorial and View Point : बोमडिला के सबसे ऊंचे स्थान पर स्थित युद्ध स्मारक 1962 के युद्ध के दौरान भारतीय सेना के सिख सैनिकों द्वारा किए गए सर्वोच्च बलिदान की याद में बनाया गया है। यह सभी भारतीयों के लिए एक ज़रूरी जगह है क्योंकि हमारे सैनिकों ने नंगे हाथों और पुरानी बंदूकों के साथ चीनी सैनिकों से युद्ध किया था। उस समय बनाए गए बंकरों का रखरखाव आज भी भारतीय सेना द्वारा किया जाता है। आपको वहां से बर्फ से ढकी पहाड़ियों का शानदार नज़ारा देखने को मिलता है।

Bomdila Buddhist Monastery

3. Dirang


Dirang Dzong Fort: अरुणाचल प्रदेश के दिरांग में स्थित एक ऐतिहासिक किला है। यह मध्यकालीन काल के दौरान एक रणनीतिक प्रशासनिक केंद्र के रूप में कार्य करता था, व्यापार मार्गों की देखरेख करता था और बाहरी खतरों से सुरक्षा प्रदान करता था। आज, यह क्षेत्र में एक महत्वपूर्ण सांस्कृतिक और ऐतिहासिक स्थल के रूप में खड़ा है, जो सदियों पहले से अपने वास्तुशिल्प और रणनीतिक महत्व को दर्शाता है।

4. डमरो


डमरो गांव के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं. यह जगह कम लोकप्रिय है लेकिन बेहद खूबसूरत है। डमरो खूबसूरत है, इसकी प्राकृतिक सुंदरता का आनंद लेने के लिए कम से कम एक बार जरूर जाना चाहिए। इस गांव की खासियत यहां बना हुआ हैंगिंग ब्रिज है। यह पुल अरुणाचल प्रदेश का सबसे लंबा पुल है।

यह पुल मूलतः एक झूलता पुल है। 60 से 70 मीटर लंबे रस्सी और लकड़ी के पुल पर चलना एक साहसिक कार्य है। इस पुल को पार करते समय आपको डर तो जरूर लगेगा लेकिन आसपास की खूबसूरती का आनंद लेने का मौका भी मिलेगा। गांव में रहने वाले लोग रोजाना इस पुल से होकर गुजरते हैं।

Damro: The village with the longest hanging bridge in Arunachal Pradesh

5. जीरो वैली


अरुणाचल प्रदेश के Lower Subansiri जिले में समुद्र तट से 5500 फीट की ऊंचाई पर स्थित जीरो वैली मिलता पुराना और थोड़ा विचित्र शहर है। यह खूबसूरत बांस और हरे देवदार के पेड़ों के जंगलों का घर है। यहां रहने वाले लोगों को अपातिनी जाति के लोग कहा जाता है।

इन लोगों के पूर्वजों ने ही जीरा घाटी में अनाज की खेती शुरू की थी। इन्हीं लोगों ने खेती की सिंचाई के लिए नलीनुमा में नहर चैनल भी बनवाया। यहां आने वाले सभी टूरिस्ट अपनी भागदौड़ भरी जिंदगी से दूर शांतिपूर्ण माहौल का आनंद ले सकते हैं। जीरो वैली के आसपास कई और जगह हैं जहा आप घूम सकते हैं।

यदि आप शांति से बैठकर प्रकृति का आनंद लेना चाहते हैं, तो जीरो वैली एक शांतिपूर्ण और खुशहाल जगह है।

Mountain View Of Zero Village

6. Kile Pakho


Kile Pakho भारत में अरुणाचल प्रदेश की जीरो घाटी में स्थित एक मनोरम जगह है। यह जगह उन यात्रियों के लिए है जो शांत सुंदरता के साथ-साथ रोमांचक ट्रैकिंग की तलाश में हैं। यह एक उच्च ऊंचाई पर राजसी ढंग से स्थित है, जो हरे-भरे जीरो घाटी और बर्फ से ढके हिमालय के पहाड़ों का मनोरम व्यू प्रदान करता है।

Kile Pakho तक पहुँचने का ट्रेक हरे-भरे जंगलों और विविध वनस्पतियों से घिरे आकर्षक रास्तों से भरा हुआ है, जो इसे इको-टूरिस्ट के लिए एक आनंदमय जगह बनाता है। यह स्थान जीरो के मूल निवासी अपातानी जनजाति के सांस्कृतिक सार से मेल खाता है। Kile Pakho केवल प्राकृतिक सुंदरता के बारे में नहीं है, बल्कि प्रकृति के चमत्कारों के बीच फोटोग्राफी, पक्षी-दर्शन और आत्मनिरीक्षण के लिए पर्याप्त अवसर भी प्रदान करता है।

टूरिस्ट को उगते और डूबते सूरज का मनमोहक नज़ारा देखने को मिलता है, जो आसमान को चमकीले रंगों में रंग देता है। किले पाखो की शांति और सुंदरता इसे प्रकृति प्रेमियों और शहर के जीवन की हलचल से बचने की चाहत रखने वालों के लिए एक आदर्श स्थान बनाती है।

अपातानी जाति


Apatani Tribe – Ladies Culture

अपातानी जाति की महिलाएं अगर आप अपातानी जाति की महिलाओं को देखें तो आपको पता चलेगा कि माथे से लेकर नाक के पुल तक एक हरी रेखा गुदी हुई है। यह चौड़ी रेखा अधिकतर अपातानी महिलाओं के चेहरे पर होती है। ऐसी पांच रेखाएं उनकी दाढ़ी पर भी गुदवाई गई हैं। यह लोगों की परंपरा है।

7. Ziro Puto


जीरो पुटो अरुणाचल प्रदेश का एक लोकप्रिय टूरिस्ट प्लेस है। जीरो पुटो एक पहाड़ी है और यहीं पर भारत का पहला Administrative Center स्थापित किया गया था। यह ज़रूर देखने लायक जगह एक आर्मी कैंटोनमेंट के रूप में भी जानी जाती है।

जिसे 60 के दशक में स्थापित किया गया था और यह भारत के इतिहास में एक ऐतिहासिक महत्व रखती है। एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल होने के नाते, जीरो पुटो से आप अपाटानी पठार के शानदार नज़ारे को देख सकते हैं और साथ ही आप पूरे जीरो शहर को देखने के लिए ऊपर तक ट्रेक कर सकते हैं।

Tarin Fish Farm :

हालाँकि जिरो घाटी बहुत ऊँचाई वाली जगह है, यहाँ मछली पालन होता है। यहां आपको कई छोटी-बड़ी मछलियां मिलेंगी। इसके अलावा यहां कुछ दुर्लभ प्रजातियों के फूलों और ऑर्किड की भी खेती की जाती है।

Tippi Orchid Research Center :

Tippi Orchid Research Center

इस सेंटर में आकर आपको ऑर्किड की लगभग 1000 प्रजातियां देखने को मिलेंगी जो वाकई खूबसूरत और अद्भुत हैं।

Become a Trendsetter With DailyLiveKhabar

Newsletter

Streamline your news consumption with Dailylivekhabar's Daily Digest, your go-to source for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *