Friday, 19 July 2024
Trending
ऑटोमोबाइल

अपनी इलेक्ट्रिक कारों में Made In India बैटरी तकनीक का उपयोग करने का निर्णय लिया इन 2 कंपनी ने व्यवसायिक संगठन के संघ Hyundai और Kia का समझौता

भारतीय वाहन उत्पादन उद्योग में एक नया मोड़: देश की दो अग्रणी वाहन निर्माताओं ने अब Made In India बैटरी तकनीक के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाया है। यह उन्होंने भारतीय बैटरी निर्माता कंपनी के साथ एक साझेदारी बनाई है। इस साझेदारी का लाभ जल्द ही लॉन्च होने वाली इलेक्ट्रिक कारों में दिखेगा। यहाँ इस नई साझेदारी के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई है, उन कंपनियों के नाम और इसके अनुमानित फायदे।

भारतीय इलेक्ट्रिक वाहन उत्पादन का बाजार निरंतर विकसित हो रहा है। विभिन्न कंपनियों जैसे कि टाटा और मर्सिडीज, इस सेगमेंट में अपनी वाहन विक्रय कर रही हैं। अब जल्द ही, दो अग्रणी कंपनियों ने भी कम कीमत वाली इलेक्ट्रिक कारों और एसयूवी को भारतीय बैटरी के साथ लॉन्च करने का निश्चय किया है। यहाँ हम आपको इस खबर में बताने जा रहे हैं कि किन कंपनियों ने भारतीय बैटरी तकनीक के लिए किस भारतीय कंपनी के साथ साझेदारी की है।

Hyundai और Kia ने की साझेदारी

भारत में इलेक्ट्रिक कारों की मांग में वृद्धि होते जा रहे है। कंपनियों ने भी इस तरफ ध्यान दिया है और नई इलेक्ट्रिक कारों को लॉन्च किया जा रहा है। Hyundai और Kia ने Exide बैटरी के साथ समझौता किया है। इस समझौते के बाद, यह कंपनियां अब नई इलेक्ट्रिक कारों में Made In India बैटरी का उपयोग करेंगी।

बैटरी उत्‍पादन को स्‍थानीय बनाना है लक्ष्‍य

Hyundai मोटर और Kia मोटर्स ने भारतीय बाजार के लिए अपनी ईवी प्लान को विस्तारित किया है, और इसके साथ ही उनका लक्ष्य अपने ईवी बैटरी उत्पादन को स्थानीय बनाना है। खासतौर पर लिथियम-आयरन-फॉस्फेट (एलएफपी) पर कंपनियों का फोकस है। यह रणनीतिक कदम उन्हें भारतीय बाजार में अपनी आने वाली इलेक्ट्रिक वाहनों के कई मॉडल्स में घरेलू स्तर पर बनीं बैटरी लगाने के साथ कई लाभ प्रदान करेगा।

व्यवसायिक कंपनी द्वारा यह बात कही गई

Hyundai मोटर और Kia के R&D डिवीजन के अध्यक्ष और प्रमुख, हेई वोन यांग, ने बताया कि सरकार के कार्बन नियंत्रण लक्ष्यों के कारण, भारत इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए एक मुख्य बाजार है, जहां स्थानीय बैटरी उत्पादन से लागत प्रतिस्पर्धात्मकता महत्वपूर्ण हो गई है। हमने एक्साइड एनर्जी सॉल्यूशंस लिमिटेड के साथ एक वैश्विक साझेदारी की घोषणा की है, जिसके माध्यम से हम भारतीय बाजार में हुंडई मोटर और किआ के भविष्य के ईवी मॉडल को स्थानीय रूप से उत्पादित बैटरी से लैस करके प्रतिस्पर्धात्मक लाभ हासिल करेंगे।

जल्द आ रही हैं अफोर्डेबल नई इलेक्ट्रिक कारें

रिपोर्ट्स अनुसार बता रही हैं कि दोनों कंपनियाँ भारत में इलेक्ट्रिक कारों को लाने के लिए तेजी से काम कर रही हैं। वर्तमान में, दोनों कंपनियों द्वारा Kona, Ioniq5 और EV6 जैसी लग्‍जरी इलेक्ट्रिक कारें पेश की जा रही हैं। हालांकि, दोनों कंपनियां अगले एक या दो सालों में भारतीय बाजार में कम कीमत वाली इलेक्ट्रिक कारों को उपलब्ध कराने की तैयारी में हैं। अगर बैटरी भी भारत में ही निर्मित की जाए, तो यह कारों की कीमत में कमी करने में मदद कर सकती है। सूत्रों के अनुसार, हुंडई की ओर से क्रेटा और किआ की ओर से सेल्टॉस, कैरेंस के इलेक्ट्रिक वेरिएंट्स को अगले साल तक भारत में पेश किया जा सकता है।

Become a Trendsetter With DailyLiveKhabar

Newsletter

Streamline your news consumption with Dailylivekhabar's Daily Digest, your go-to source for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *