Friday, 19 July 2024
Trending
देश दुनिया

75 साल बाद UAE में गिरी अचानक से बारिश क्या यह विपत्ति का संकेत है वैज्ञानिकों ने क्या कहा?

संयुक्त अरब अमीरात में मंगलवार को हुई भारी बारिश की एक वजह क्लाउड सीडिंग हो सकती है। इसमें छोटे विमान बादलों के बीच से गुजरने के दौरान विशेष नमक की लपटें छोड़ते हुए जाते हैं जिससे बारिश होती है। दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने बुधवार को स्वीकार किया कि जलभराव की वजह से परिचालन के विकल्प सीमित रह गए और उड़ानें प्रभावित हुई हैं।

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में मंगलवार को हुई भारी बारिश का एक कारण ‘क्लाउड सीडिंग’ हो सकता है। इसमें छोटे विमान बादलों के बीच से गुजरते समय खास नमक की लचीलाई छोड़ जाती है, जिससे वर्षा होती है। वैज्ञानिक भी जलवायु परिवर्तन को ऐसी मौसमी घटनाओं का कारण मान रहे हैं।

कहां-कहां हुई बारिश?

सोमवार से शुरू होकर मंगलवार को पूरे दिन बहरीन, ओमान, कतर, और सऊदी अरब में भी बारिश हुई, लेकिन यूएई में बारिश अधिक तेज थी। सरकारी समाचार एजेंसी डब्ल्यूएएम ने इसे मौसम की ऐतिहासिक घटना घोषित किया है, जिसका आंकड़ों का एकत्रीकरण 1949 में शुरू होने के बाद से दर्ज बारिश के किसी भी आंकड़े से अधिक रहा है।

राष्ट्रीय मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों के हवाले से कई खबरों में बताया गया कि भारी बारिश से पहले उन्होंने छह या सात क्लाउड सीडिंग उड़ानें संचालित की थीं। हालांकि, मौसम विज्ञान केंद्र ने इस बारे में बुधवार को कोई आधिकारिक जानकारी नहीं दी।

फ्लाइट ट्रैकिंग डेटा के विश्लेषण से पता चला कि यूएई के क्लाउड सीडिंग प्रयासों से जुड़े एक विमान ने सोमवार को देश के ऊपर उड़ान भरी थी। यूएई अपने घटते भूजल का स्तर बढ़ाने के लिए क्लाउड सीडिंग का सहारा लेता है। दुबई में मंगलवार रात तक 24 घंटों में 5.59 इंच बारिश हुई, जबकि औसत वर्ष में दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 3.73 इंच बारिश दर्ज होती है।

  • अबुधाबी में अल ऐन के नजदीक के इलाके अल-शकला में मंगलवार को सबसे अधिक (10 इंच) बारिश हुई।
  • यूएई के पूर्वी तट पर स्थित अमीरात फुजैरा में 5.7 इंच बारिश दर्ज की गई।

यूएई में बुधवार को भी स्कूल बंद रहे और सरकारी कर्मचारियों ने यथासंभव घर से काम किया। जलभराव के कारण सड़कों और राजमार्गों से पानी निकालने के लिए प्रशासन ने टैंकर ट्रक लगाए हैं और मलबा भी साफ किया जा रहा है। लोगों के घरों में पानी भर गया है, लेकिन राहत की बात यह है कि जान-माल का ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है।

पुलिस ने बताया कि वाहन बह जाने की वजह से रास अल खैमाह में एक 70 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई। दुनिया के सबसे व्यस्ततम हवाई अड्डों में से एक दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टैक्सीवे पर जलभराव के कारण मंगलवार रात विमानों का आवागमन रोक दिया गया।

जलभराव से उड़ानों पर असर

दुबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट ने बुधवार को स्वीकार किया कि जलभराव की वजह से परिचालन के विकल्पों में सीमितता आई और उड़ानें प्रभावित हुईं, क्योंकि विमानों के पायलट दल हवाई अड्डे तक पहुंच नहीं सके। परिचालन को सामान्य होने में कुछ समय लगेगा।

एयरपोर्ट के CEO Paul Griffith ने बताया कि जलभराव की स्थिति बुधवार सुबह भी बनी रही, लिहाजा कुछ विमानों को दुबई के ही अल मकतोम एयरपोर्ट पर डायवर्ट करना पड़ा। कई एयरलाइनों ने दुबई से आने-जाने वाली कई उड़ानों को रद कर दिया है।

भारतीयों के लिए हेल्पलाइन जारी

यूएई में भारी बारिश के चलते फंसे भारतीयों और देश के हवाईयात्रियों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए गए हैं। दुबई स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास ने ये नंबर जारी किए गए हैं। मोबाइल नंबरों +971501205172, +971569950590, +971507347676, +971585754213 पर भारतीय संपर्क कर किसी भी तरह की मदद हासिल कर सकते हैं। दूतावास ने यह भी बताया कि वे भारतीय यात्रियों की मदद के लिए यूएई के अधिकारियों और एयरलाइंस के संपर्क में हैं।

Become a Trendsetter With DailyLiveKhabar

Newsletter

Streamline your news consumption with Dailylivekhabar's Daily Digest, your go-to source for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *