Wednesday, 24 July 2024
Trending
फ़ूड

Hanuman Jayanti 2024: हनुमानजी को लगाएं इन बूंदी के लड्डुओं का भोग बजरंगबली को हैं अतिप्रिय

भगवान श्रीराम के निष्ठावान भक्त, संकटमोचन हनुमान जी का जन्म चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को हुआ था। हनुमान जयंती का त्योहार इस वर्ष 23 अप्रैल को मनाया जाएगा। बजरंगबली अपने भक्तों के संकट को दूर करने वाले देवता हैं।

भगवान श्रीराम के अत्यंत निष्ठावान भक्त, संकटमोचन हनुमान जी का जन्म चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को हुआ था। हनुमान जयंती का पर्व इस वर्ष 23 अप्रैल को मनाया जाएगा। बजरंगबली अपने भक्तों के संकटों को दूर करने वाले देवता हैं। हनुमान जी के प्रसन्न होने पर मनोवांछित फल मिलता है। हनुमान जी को बूंदियों के अलावा विभिन्न प्रकार के लड्डू भोग भी अर्पित किये जा सकते हैं। यदि आप इस हनुमान जयंती पर बूंदी के लड्डू बनाकर बोधान चाहते हैं, तो हम आपको इसकी सरल रेसिपी बताएँगे। इस रेसिपी की मदद से आप कम समय में बूंदी के लड्डू तैयार कर सकते हैं।

हिंदू धर्म के अनुसार, कलयुग में भगवान राम के परम भक्त हनुमान जी की पूजा-अर्चना सभी सुखों को प्राप्त करने और मनोकामनाओं को सिद्ध करने का स्रोत माना जाता है। हर युग में उनकी अस्तित्व धरती पर साकार होती है और उनकी पूजा से व्यक्ति के जीवन में आने वाले सभी कष्टों का समाधान होता है। इसके साथ ही, हनुमान जी की पूजा से घर में सुख-शांति बनी रहती है और समृद्धि की प्राप्ति होती है।

बूंदी के लड्डू बनाने के लिए सामग्री

  • बेसन – 250 ग्राम
  • चीनी – 1 कप
  • सूजी – 50 ग्राम
  • इलायची पाउडर – 2 टी स्पून
  • सूखे मेवे कटे हुए – 1/2 कप
  • मीठा पीला रंग – 1 चुटकी
  • मीठा लाल रंग – 1 चुटकी
  • देसी घी – 300 ग्राम

बूंदी के लड्डू बनाने की विधि

सबसे पहले एक मिक्सिंग बाउल लें और उसमें बेसन और सूजी छानकर डाल लें। इन्हें अच्छी तरह से मिक्स कर लें। बेसन बारीक पिसा होने पर ही सूजी डालने की जरूरत पड़ती है। अब इस मिश्रण में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए घोल तैयार करें। घोल न ज्यादा पतला और न ज्यादा गाढ़ा होना चाहिए। इस दौरान चाशनी तैयार करने के लिए एक कड़ाही में चीनी डालें और उसमें उतनी ही मात्रा में पानी मिलाएं। इसके बाद इसे गैस पर गर्म करने के लिए रख दें। जब मिश्रण में उबाल आने लग जाए तो इसके बाद भी 5 मिनट तक इसे पकाएं। चाशनी एक तार की बनने के बाद इसमें इलायची पाउडर और मीठा पीला रंग डालकर अच्छे से मिक्स कर दें। फिर गैस बंद कर दें।

अब बूंदी बनाने की प्रक्रिया शुरू करें। इसके लिए कड़ाही में देसी घी डाल दें। घी जब पिघल जाए तो बेसन का घोल लें और झरिये की मदद से गर्म तेल में बूंदी बनाते हुए तलते जाएं। इस दौरान गैस की आंच तेज ही रखें। जब बूंदी का अंतिम घोल बाकी हो तो उसमें मीठा लाल रंग मिला दें और उससे लाल रंग की बूंदी तैयार कर लें। अब तैयार बूंदी को हल्की गर्म चाशनी में डालकर अच्छी तरह से मिक्स करें। इसमें कटे हुए सूखे मेवे भी डालकर मिला दें। इसके बाद चाशनी मिली बूंदी को आधा घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें। तय समय के बाद बूंदी को लें और उसके दोनों हाथों से लड्डू बांधते जाएं। लड्डू बनने के बाद एक प्लेट में अलग रखते जाएं। इस तरह सारे मिश्रण के लड्डू तैयार कर लें। बजरंगबली को भोग लगाने के लिए बूंदी के लड्डू बनकर तैयार हो चुके हैं।

पवनपुत्र को ये भी चढ़ाएं

हनुमान जी को पान का बीड़ा और मीठी चीजें पसंद हैं। भक्तों को उन्हें पान का बीड़ा, गुड़ और चना, चूरमा, केले, लड्डू, बूंदी, इमरती और पंच मेवे जैसी मीठी चीजें चढ़ानी चाहिए। इसके साथ ही पवनपुत्र को केसरी भात का चढ़ावा भी चढ़ाया जा सकता है। इसे तैयार करने के लिए काजू और किशमिश को भूनकर उसमें लौंग डालें। इसमें भीगे चावल डालकर अच्छी तरह से मिलाएं। फिर इसमें पानी और केसर डाल कर पकाएं। बजरंग बली को केले अति प्रिय हैं। उन्हें केले में लौंग लगाकर चढ़ाना चाहिए। बता दें कि उन्हें पंचामृत चढ़ाना मना होता है।

Become a Trendsetter With DailyLiveKhabar

Newsletter

Streamline your news consumption with Dailylivekhabar's Daily Digest, your go-to source for the latest updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *